‘इंग्लिश विंग्लिश’ से कम नहीं है ‘फाइंडिंग फेनी’

मुंबई: अर्जुन कपूर इन दिनों अपनी स्टेप मॉम श्रीदेवी से कांम्पटीशन कर रहे हैं। जिस तरह श्रीदेवी की कमबैक फ़िल्म ‘इंग्लिश विंग्लिश’ को दुनिया भर में अच्छा रिस्पांस मिला है। उसी तर्ज पर अर्जुन को ‘फाइंडिंग फेनी’ से भी वही उम्मीदें हैं। अर्जुन को उम्मीद है, कि ‘फाइंडिंग फेनी’ इंटरनेशनल ऑडिएंस को प्रभावित करेगी।

दिलचस्प बात ये है, कि गौरी शिंदे निर्देशित ‘इंग्लिश विंग्लिश’ अंग्रेजी भाषा और एक आम भारतीय औरत के बीच खींचतान की कहानी है, वहीं ‘फाइंडिंग फेनी’ मूलत: अंग्रेजी में बनाई गई फ़िल्म है। दोनों फ़िल्मों में यूं तो कोई समानता नहीं है, लेकिन ग्लोबल अपील के मामले में अर्जुन ‘फाइंडिंग फेनी’ की तुलना बाक़ी फ़िल्मों से कर रहे हैं।

अर्जुन ने कहा, कि ‘माई नेम इज़ ख़ान’ इंटरनेशनल ऑडिएंस को पसंद आई। ‘द लंच बॉक्स’ भी जर्मनी में जमकर चली। और ‘इंग्लिश विंग्लिश’ भी विदेशों में अच्छी चल रही है। जब विदेशी फ़िल्में हमारे यहां चल सकती हैं, तो हमारी फ़िल्में वहां क्यों नहीं।

दरअसल, अर्जुन के इस भरोसे की वजह फ़िल्म की लैंग्वेज तो है ही। साथ ही इसका सब्जेक्ट भी ऐसा है, जो बियांड द बाउंड्रीज है। ‘फाइंडिंग फेनी’ एक ह्यूमरस फ़िल्म है, जिसमें रोमांस, सस्पेंस और शरारत का तड़का है। फ़िल्म को होमी अदजानिया ने डायरेक्ट किया है।

फ़िल्म में अर्जुन कपूर के साथ दीपिका पादुकोणे लीड रोल में हैं, जबकि नसीरूद्दीन शाह, पंकज कपूर और डिंपल कपाड़िया सपोर्टिंग रोल्स में हैं। फ़िल्म 12 सितंबर को रिलीज़ हो रही है। देखते हैं, कि ‘फाइंडिंग फेनी’ ‘इंग्लिश विंग्लिश’ के मुक़ाबले कैसी चलती है।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *